सीरीज-1 दिल्ली की बदलती प्रशासनिक संरचना

ब्रिटिश काल (1857 – 1947)

  1. प्रारंभ के 55 साल इस क्षेत्र को पंजाब राज्य के एक जिले के तौर पर बनाए रखा गया।
  2. 12 दिसंबर 1911 को दिल्ली को राजधानी बनाने की घोषणा
  3. दिनांक 17 सितंबर 1912 राजकीय अधिसूचना नं. 911 के तहत गर्वनर जनरल इन काउंसिल ने दिल्ली तहसील और महरौली पुलिस थाने के अंतर्गत क्षेत्रों को अपने अधिकार में लिया।
  4. अधिसूचना के आधार पर दिल्ली का प्रशासनिक प्रभार मुख्य आयुक्त के जिम्मे किया गया।
  5. साल 1915 में 65 गांवों वाले यमुना पार के क्षेत्र को दिल्ली राज्य के मुख्य आयुक्त के तहत किया गया।
  6. इस तरह 673 मील के इलाके के साथ दिल्ली एक अलग प्रशासनिक इकाई बन गई।
  7. साल 1935 के भारत सरकार के कानून में भी कोई खास परिवर्तन नही किया गया। यह पहले की तरह ही गर्वनर जनरल के द्वारा नियुक्त मुख्य आयुक्त के प्रशासनिक दायरे में बना रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here