एक आम नागरिक का ‘आत्मनिर्भर’ प्रयास

सिविल लाइंस इलाके की ये सड़क सालों से बदहाल स्थिति में है.. बारिश के बाद तो हालत और भी बुरे हो जाते हैं..गड्ढे गहरे हो जाते हैं..गाड़ी चलाने में काफी परेशानी होती है.. इलाके के लोग इस सड़क को ठीक करवाने की फरियाद लेकर निगम ‌पार्षद पूजा मदान, जिनकी पहली जिम्मेदारी बनती है, सांसद मनोज तिवारी, विधायक दिलीप पांडे, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और एलजी से गुहार लगा लगा कर थक चुके हैं। सभी सिर्फ झूठा आश्वासन देते हैं..देश की राजधानी के मध्य में ऐसी बदहाल सड़क राजनेताओं के नाम पर कलंक की तरह है। सबसे बड़ी बात है मुखर्जीनगर विस्तार के इस इलाके में देश भर के युवा रहते हैं, पढ़ाई और जॉब की तैयारी के लिए। उन्हें इस मुख्य सड़क की बदहाली की वजह से काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है..मेट्रो तक जाने वाले ऑटो और बैट्री रिक्शा काफी कम हो गए हैं। अक्सर रिक्शा पलट जाता है। हादसे होते रहते हैं। दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है कि नेताओं को देश के युवाओं की भी परवाह नहीं है। स्थानीय राजनीति के चक्कर में उन्हें अच्छी सुविधा नहीं दे रहे हैं। जबकि बीजेपी हो या आम आदमी पार्टी दोनों ही युवाओं के साथ होने का दम भरते रहते हैं।ऐसी स्थिति में एक आम नागरिक की आत्मनिर्भर होने की छोटी सी कोशिश..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here