कोरोना की थमती रफ्तार..खुलती दिल्ली

बहुत दिनों के बाद पिछले 24 घंटे के आंकड़ें राहत देने वाले आए हैं। कोरोना संक्रमण के 946 नए केस मिले। ऐसा 22 मार्च के बाद पहली बार हुआ है, संक्रमितों की संख्या एक हजार के नीचे रही। 22 मार्च के दिन दिल्ली में 888 नए मरीज मिले थे। संक्रमण की दर घटकर 1.25 प्रतिशत रह गई है। इसके साथ ही सक्रिय मरीजों की कुल संख्या 12,100 हो गई है। जबकि कुल 1,803 मरीज डिस्चार्ज हुए, यानी लगभग दोगुनी संख्या में लोग ठीक होकर घर गए। दिल्ली में कोरोना रिकवरी दर में काफी सुधार देखने को मिल रहा है। अभी दिल्ली में रिकवरी दर 97.45 प्रतिशत है। 25 मार्च को ये आंकड़ा 97.47 प्रतिशत था।

मौत का आंकड़ा भी सौ से नीचे खिसका है। पिछले 24 घंटे में 78 लोगों की जान कोरोना की वजह से गई। अब तक दिल्ली में कुल 24,151 लोगों की मृत्यु कोरोना की वजह से हो चुकी है।

दिल्ली में कोरोना के टेस्ट की संख्या को भी लगातार बढ़ा कर रखा गया है। पिछले 24 घंटों में 75,440 टेस्ट हुए। जिसमें RT-PCR 53,259 और एंटीजन टेस्ट 22,181 रहा। अब तक दिल्ली में कुल 1,92,37,040 टेस्ट हो चुके हैं।

लगातार कोरोना संक्रमण के गिरते स्तर को देखते हुए दिल्ली सरकार ने इस सप्ताह से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू कर दी है। अभी केवल फैक्ट्री और निर्माण कार्यों को शुरू करने की इजाजत दी गई है। लेकिन कड़े निर्देश दिए गए है कि निर्माण स्थल पर कोरोना गाइडलाइन का पूरा पालन करना होगा। थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था करनी होगी। जिसकी भी तबीयत बिगड़ी होगी उसे कार्यस्थल पर नहीं रखना होगा। मतलब बिना लक्षण वाले लोग ही फैक्ट्रियों में और कंस्ट्रक्शन साइट पर काम कर सकेंगे। एक साथ सारे कर्मचारियों को नहीं बुलाया जाएगा। अलग अलग शिफ्ट निर्धारित करनी होगी। ताकि एक साथ ज्यादालोग साइट पर इक्ट्ठे ना हों।

मजदूरों और कर्मचारियों को आने जाने के लिए ई-पास जारी किया जाएगा। कॉन्ट्रैक्टर और मालिकों अपने कर्मचारियों के लिए ई-पास के लिए अप्लाई करना होगा।

कार्य स्थल पर कोरोना गाइड लाइन का पालन सही तरीके से हो रहा है या नहीं इस पर नजर रखने की जिम्मेदारी डीएम और पुलिस विभाग को सौंपी गई है।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here